Subscribe

RSS Feed (xml)

Powered By

Skin Design:
Free Blogger Skins

Powered by Blogger

Thursday, 25 March, 2010

कभी देखे न ऐसा दौर तू भी

कभी देखे न ऐसा दौर तू भी 
हमारी बात पर कर गौर तू भी 

Monday, 22 March, 2010

अवतारों के उपदेशों का

अवतारों के उपदेशों का सब ग्रंथों का सार यही है 
ढाई आखर पढ़ ले बन्दे कबीरा तूने खूब कही है 

Friday, 19 March, 2010

नव-वर्ष की शुभ-कामना

चैत्र शुक्ल प्रतिपदा [दिनांक १६ मार्च, २०१०] को विक्रम संवत २०६७ प्रारम्भ हुआ. प्रवास पर होने के कारण नव-वर्ष की शुभ-कामना पोस्ट नहीं कर पाया. क्षमा-प्रार्थी हूँ. देर से ही सही आप सब को नव-वर्ष की हार्दिक शुभ-कामनाएं !संवत २०६७ आपके लिए शुभ एवं लाभ का दाता बने  यही प्रार्थना !

चैत्र शुक्ल की प्रतिपदा, मंगलमय नव-वर्ष 
मना रहा आनंद से, सारा भारत-वर्ष 


सारा भारत-वर्ष, उठा कर शीश अड़ा है  
अंगद-सा ख़म ठोक, भुजाएं तोल खडा है 


बनना फिर से विश्व-गुरु, समझो यह निष्कर्ष 
चैत्र शुक्ल की प्रतिपदा, मंगलमय नव-वर्ष 

Saturday, 13 March, 2010

कभी तोड़ा कभी छोड़ा

कभी तोड़ा कभी छोड़ा कभी छेड़ा बहाने से 
हमारा दिल कभी हटता नहीं उनके निशाने से 

Monday, 1 March, 2010

होली में

करे हैं रंग का बू का सभी व्यापार होली में 
मुहब्बत कम से कमतर हो रही हर बार होली में