Subscribe

RSS Feed (xml)

Powered By

Skin Design:
Free Blogger Skins

Powered by Blogger

Monday 10 August 2009

आईने की हर कमी गिनवाइये

आईने की हर कमी गिनवाइये

शक्ल पर अपनी कभी मत जाइए

आपके सिर पर टिका है आसमां

आपसे है यह ज़मीं समझाइये

ख़ुद लगाओ दूसरों को रात-दिन

स्वयं भी मस्का सदा लगवाइये

कौन है ढूंढो तुम्हारे काम का

रात-दिन फ़िर गुण उसी के गाइए

पाँव भटके या चुनी राहें ग़लत

इस हकीक़त को सदा झुठलाइये

सीढियां जो कामयाबी दे तुम्हें

शिखर पर जाकर उन्हें कटवाइए

सफलता के सूत्र "जोगेश्वर" सुनो

छोड़ कर जिद अब इन्हें अपनाइए