Subscribe

RSS Feed (xml)

Powered By

Skin Design:
Free Blogger Skins

Powered by Blogger

Friday 21 August 2009

सखे

उल्टे सीधे सब कर डालो काम सखे
जैसे भी हो जग में करलो नाम सखे

दुनिया भर में जो भी अच्छा होता है
उसका श्रेय लिखो ख़ुद अपने नाम सखे

बिगड़ गया जो उससे पल्ला झाड़ चलो
औरों के सर धरलो हर इल्जाम सखे

गुलशन के काँटों से हमको क्या मतलब
गुल को थामो बन जाओ गुलफाम सखे

कुछ भी करो जुगाड़ भिडाओ काँटा तुम
अपने नाम करालो हर ईनाम सखे

रोज सवेरे कान पकड़ तौबा करलो
खूब सजाओ महफ़िल भी हर शाम सखे

उगने को आतुर सूरज को पहचानो
प्रतिदिन उठ कर उसको करो सलाम सखे

जो तुमको फलदायक हो उन्नायक हो
उसके बन कर रहो सदैव गुलाम सखे

तुम विशिष्ठ हो सर्वश्रेष्ठ हो यह समझो
लोगों को पर लगो हमेशा आम सखे

मुफ्त दे दिया ज्ञान तुम्हें इतना सारा
"जोगेश्वर" को करने दो आराम सखे